Agnipath Yojana in Hindi~अग्निपथ प्रवेश योजना सेना के जवान कहलाएगें अग्निवीर जानिए

Advertisement

Agnipath Yojana in Hindi~अग्निपथ प्रवेश योजना सेना के जवान कहलाएगें अग्निवीर जानिए । Agnipath Scheme 2022 | अग्निपथ योजना क्‍या है । Agnipath Yojana 2022 | अग्निपथ योजना 2022 ।Agnipath Recruitment Scheme 2022 | अग्निपथ स्‍कीम क्‍या है । Agnipath in Hindi | अग्निपथ प्रवेश योजना क्‍या है । अग्निपथ 2022

Agnipath Yojana 2022:- प्‍यारे दोस्‍तो देश में जो सेना की भर्तीया होती है उसमें मोदी सरकार बड़ा बदलावा ला रही है। जिसे अग्निपथ प्रवेश योजना (Agnipath Recruitment Yojana 2022) का नाम दिया गया है इस योजना के तहत देश की सेना में शामिल हुए नौजवानो अर्थात सैनिकों को अग्निवीर (Agniveer) कहा जाएगा। और अब वो सभी 3 वर्ष तक नौकरी करेगें जिसके बाद उन्‍हे नौकरी से हटा दिया जाएगा। और उनको सिविल सेक्‍टर (Civil Sector) में नौकरिया प्रदान की जाएगी। और यदि आप इस अग्निपथ प्रवेश योजना के बारें में विस्‍तार से जानना चाहते है तो लेख के साथ अंत तक बने रहे।

Advertisement

Indian Army Recruitment Process 2022 (अग्निपथ योजना क्‍या है)

Agnipath Yojana । अग्निपथ प्रवेश योजना
Agnipath Yojana

भारतीय सेना में अब जो भर्तीयो होगी उसे सरकार अग्निपथ प्रवेश योजना (Agnipath Yojana) के तहत कि जाएगी। इस स्‍कीम के तहत देश की तीनो सेनाओं जल सेना (Navy) थल सेना (Army) वायु सेना (Air Force) के सैनिक युवाओं को केवल तीन वर्ष तक सेना की नौकरीया करनी होगी। जिसे अग्निवीर नाम दिया जाएगा। जिससे सशस्‍त्र बलों की औसत उम्र में कमी आएगी और रिटायरमेंट (Retirement) व पेंशन (Pension) के रूप में सरकार के ऊपर बोझ नहीं पड़ेगा। तथा उन्‍हे सेना में भर्ती होने के इक्षुक युवाओं को मौका भी दिया जाएगा।

बताया जा रहा है की अब सरकार सैनिको को केवल 3 वर्ष के लिए ही चयन करेगी और इसी दौरान उन्‍हे अलग-अलग क्षेत्राें में कई कठिनायों व चुनौतियों का सामना करना पड़गा। ताकी वो इतने मजबूत हो जाएगी आने वाले खतरे का सामन खुलकर कर सके। आपको बता दे की देश में कोविड 19 जैसे महामारी के चलते सैन्‍य भर्तियों में कमी आ गई है। और हमारे देश में सेना के जवानो की संख्‍या में कमी आ गई है। वहीं आंकड़ों के मुताबित बताया जा रहा है की देश की तीनो सेनाओं में अभी सवा लाख से भी ज्‍यादा सीटें खाली है।

अग्निवीर नाम क्‍यों दिया गया जानिए

अग्निपथ प्रवेश योजना
अग्निपथ प्रवेश योजना

सेना में जो जवानों की भर्तिया होगी उसे अग्निपथ प्रवेश योजना (Agnipath Yojana in Hindi)कहा गया है जिस कारण जवानों को अग्निवीर कहा जाएगा। भास्‍कर की रिपोर्ट के मुताबित वर्ष 2017 में ऐसा पहली बार किया गया था। जो रिाटायर हुए सैनिक थे उनकों सेवा में दुबारा भर्ती होने का मौका दिया गया था। जिसे टूर ऑफ ड्यूटी (Tour of Duty Indian Army) योजना का नाम दिया गया था।

4 साल की नौकरी के बाद क्‍या होगा

आपको बता दे सेना के जवानों के पास एक ऑब्‍शन होगा की या तो अग्निवीरों (Agnipath Yojana in Hindi) को स्‍थायी सेवा में शामिल किया जा सकता है। या फिर संविदा सैनिकों (अग्निवीर) को चार वर्ष के बाद फैसला होगा। की ये कॉरपोरेट सेक्‍टर में भी नौकरीयो कर सकते है। क्‍योंकि जब युवाओं को कॉरपोरेट जगत में ज्‍यादा मांग होगी तो रिटायर जवानो को आसनी से नौकरीया मिल जाएगी।

अग्निवीरों को मिलेगा सस्‍ता लोन

देश के युवाओं के लिए जो सुनहरा अवसरक अग्निवीर योजना को शुरू किया है उसमें केंद्रीय रखा मंत्री राजनाथ सिंह जी ने ऐलान किया है की सभी अग्निवीरों सस्‍ती दर पर कर्ज की सुविधाए दी जाएगी।

अग्निपथ प्रवेश योजना के लिए क्‍या पात्रताऐं होनी चाहिए

  • आवेदक की आयु सीमा 18 वर्ष से लेकर 34 वर्ष के बीच में होनी चाहिए। यदि कोई आवेदक व्‍यक्ति‍ की आयु 18 से कम व 34 वर्ष से अधिक है तो उसे अग्निपथ प्रवेश योजना (Agneepath Yojana) के तहत शामिल नहीं किया जाएगा।
  • आवेदन व्‍यक्ति के पास 10 वीं पास, ग्रेजुएट, आईआईटी पास युवओं को ही अग्निपथ योजना के तहत सेना में भर्ति किया जाएगा।
  • इसके अलावा जो व्‍यक्ति फिजिकल फीट, शारीरिक व मानसिक रूप से सही है उनको ही योजना के द्वारा प्रवेश दिया जाएगा।

सेना ने शुरू की भर्ती प्रक्रिया की तैयारी

आपको बता दे की देश में तीनों सैन्‍य बलों ने अग्रिपथ योजना (Agnipatha Scheme) के जरिए युवाओं व युवतियों की भर्ती करने की तैयारी शुरू कर दी है। वो भी थल सेना, नौसेना, और वायुसेना में तीनों बलों में जवानों की भर्ती की जाएगी। यदि आप इस योजना के जरिए इन तीनों सैन्‍य बलों में शामिल होना चाहते है तो आप हो सकते है।

Advertisement
Advertisement
Agnipath Yojana in Hindi

अग्निपथ योजना से जुड़ी महत्‍वपूर्ण बातें

  • इस योजना के तहत देश के युवाओं को चार साल के लिए सेवा मे भर्ति किया जाएगा। साथ ही आकर्षण वेतन दिया जाएगा
  • अग्निवीरो को सेवा के चार वर्षो के बाद भी अन्‍य कई अवसर दिए जाएगे ताकी उनका भविष्‍य सुरक्षित रहे।
  • इस सैनिको को नौकरी के चार साल बाद सेवा निधि पैकेज अग्निपथ योजना के तहत दिया जाता है।
  • योजना के तहत भर्ती होने वाले युवको को चार साल के बाद सेवा से मुक्‍त कर दिया जाएगा, किन्‍तु कुछ प्रतिशत जवान अपनी नौकरी को जारी रख सकते है। वो 17.5 साल से लेकर 21 साल के युवा है।
  • इस योजना के तहत जवानो की ट्रेनिंग 10 हफ्ते से 6 मास की होगी, 10 व 12 पास छात्र कर सकते है आवेदन कर सकता है।
  • यदि कोई अग्निवीर देश की सेवा के दौरान शहीद हो जाता है तो उसके परिवार वालो को सरकार की ओर से 01 करोड़ रूपये की राशि ब्‍याज समित मिलेगी।
  • यह नौकरी देश में मेरिट के आधार पर होगी और जो युवा चयनित होगा उसे चार साल के लिए देश की सेवा में रखा जाएगा।

अग्निपथ योजना में सैलरी कितनी मिलेगी

इस योजना के जरिए देश की सेवा करने वाले युवा को प्र‍थम वर्ष में 4.76 लाख का सालाना पैकेज दिया जाएगा। चौथी साल के बाद यह पैकेज बढ़कर 06.92 लाख सालाना कर दिया जाएगा। और चार वर्ष की सेवा करने के बाद जवानों को 11.7 लाख रूपये की सेवा निधि सालाना दि जाएगी।

दोस्‍तो आज के इस लेख में आपको मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई अग्निपथ प्रवेश योजना (Agnipath Yojana in Hindi) के बारें में कुछ महत्‍वपूर्ण जानकारी प्रदान की है। हमारे द्वारा बातई गई जानकारी अच्‍छी लगी तो लाईक करें व अपने मिलने वालो के पास शेयर करे। और यदि आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्‍न है तो कमेंट बॉक्‍स में जरूर पूछे। धन्‍यवाद

5 thoughts on “Agnipath Yojana in Hindi~अग्निपथ प्रवेश योजना सेना के जवान कहलाएगें अग्निवीर जानिए”

  1. Pingback: Mukhyamantri Civil Seva Protsahan Yojana Bihar ~ बिहार सिविल सेवा प्रोत्‍साहन योजना क्‍या है जानिऐं

  2. Pingback: Mukhyamantri Kisan & Sarvhit Bima Yojana Uttar Pradesh ~ मुख्‍यमंत्री किसान एवं सर्वहित बीमा योजना फॉर्म 2022

  3. Pingback: Uttar Pradesh Matra Bhumi Yojana Kya Hai ~ यूपी मातृभूमि योजना 2022

  4. Pingback: Mukhyamantri Antyodaya Parivar Utthan Yojana Kya Hai~मुख्‍यमंत्री अंत्‍योदय परिवार उत्‍थान योजना एप

  5. Pingback: International Yoga Day 2022 तो इस कारण से मनाया जाता हैं योग दिवस जा‍निए इतिहास व लाभ

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *