Advertisement

प्रवीण कुमार का जीवन परिचय | Para Athlete Praveen Kumar Biography in Hindi

Advertisement

प्रवीण कुमार का जीवन परिचय | Para Athlete Praveen Kumar Biography in Hindi | Pravin Kumar Paralympic 2020 Silver Medal | Tokyo Paralympic Praveen Kumar Biography

टोक्‍यो पैरालम्पिक 2020 के हाई जंप स्‍पर्धा में तीसरा सिल्‍वर मैडल

हमारे भारत के पैरा एथलिट Tokyo Paralympics 2020 में पूरे जोश के साथ अपना प्रदर्शन दिखाकर कई सारे मैडल जीत रहे है। इसी कड़ी मे उत्तरप्रदेश के नोएडा से आने वाले पैरा एथलिट प्रवीण कुमार ने भारत के पैरालम्पिक इतिहास में एक ओर सिल्‍वर मैडल जोड़ दिया है। प्रवीण कुमार ने हाई जम्‍प प्रतियोगिता में भारत को रजत पदक (Silver Medal) दिलाकर अपने राज्‍य उत्तरप्रदेश एवं पूरे भारत का नाम रोशन किया है।

Advertisement

बता दे दोस्‍तों प्रवीण ने हाई जम्‍प स्‍पर्धा में 2.07 मीटर लम्‍बी छलांग लगाकर सिल्‍वर मैडल अपने नाम किया है। प्रवीण का पूरी प्रतिस्‍पर्धा में शानदार प्रदर्शन रहा किन्‍तु अन्‍त उनका प्रदर्शन थोड़ा गिर गया जिससे वे गोल्‍ड मैडल नही जीत पाये। वही ग्रेट ब्रिटेन के ब्रूम एडवर्ड्स जोनाथन 2.10 मीटर हाई जंप से गोल्‍ड मैडल विजेता बने। बात करे ब्रॉन्‍ज मैडल की तो जिसके कारण पौलेण्‍ड के जॉनाथन ने 2.10 मीटर की हाई जंप लगाकर गोल्‍ड मैडल अपने नाम कर लिया। वही ब्रॉन्‍ज मैडल पौलेण्‍ड के लेपियाटो मासिएजो को मिला।

इस तरह से अब भारत के टोक्‍यो पैरालम्पिक मे हाई जम्‍प मे जीते गए मैडलो की कुल सख्‍ंया 4 हो गई है। इससे पहले भारत के मरियप्‍पन थान्‍गावेलु, निषाद कुमार व शरद कुमार ऊची कूद स्‍पर्धा में मैडल जीत चुके है।

प्रवीण कुमार जीवन परिचय विवरण (Key Points of Praveen Kumar Biography)

जीवन परिचय बिन्‍दुजीवन परिचय विवरण
पूरा नाम (Complete Name)प्रवीण कुमार
जन्‍म स्‍थान (Birth Place)नोएडा, उत्तरप्रदेश
जन्‍म दिनांक (Date of Birth)15 मई 2003
उम्र (Age)18 वर्ष
पिता का नाम (Father’s Name )
माता का नाम (Mother Name)
खेल (Game)पैरा एथलिट
प्रतिस्‍पर्धा (Events)T64
राष्‍ट्रीयता (Nationality)भारतीय
काेच का नाम (coah Name)सत्‍यपाल
सम्‍मानित आवॉर्ड (Awards)
ऊचांई (Height)
वजन (Weight)

प्रवीण कुमार का प्रारभिंक जीवन (Para Athlete Praveen Kumar Early Life)

भारत के पैरा ए‍थलिट प्रवीण कुमार का जन्‍म 15 मई 2003 उत्तरप्रदेश के नोएडा के एक छोटे से गांव गोविन्‍दगढ़ में हुआ था। आपको बता दे प्रवीण का एक पैर सामान्‍य से छोटा है। शुरू में प्रवीण ने वालीबॉल खेलना शुरू किया था परन्‍तु बाद में उन्‍होने हाई जम्‍प में अपना करियर बनाना चाहा। जब वो 16 साल के थे तो उस दौरान उन्‍हे ऊंची कूद करने का जूनून चढ़ गया था। जिसके बाद वे स्‍कूल की तरफ से जिला स्‍तर पर भी खेले। यह उनकी खेलो में रूचि एवं कड़ी मेहनत का ही फल है कि आज पैरालम्पिक पदक उनकी झोली मे है।

Advertisement

आपको बताते चले इन्‍होने दिल्‍ली के जवाहर लाल नेहरू स्‍टेडियम में ऊची कूद की ट्रैनिगं ली है। उत्तरप्रदेश के नोएडा में जन्‍में प्रवीण कुमार ने साल 2019 में अन्‍तर्राष्‍ट्रीय खेल में हिस्‍सा लेना शुरू किया

प्रवीण कुमार की शिक्षा (High Jumper Praveen Kumar Education)

भारतीय पैरा-एथलिट प्रवीण कुमार की शिक्षा के बारे में अभी डाटा मौजूद नही है।

पैरा एथलिट प्रवीण कुमार का खेल करियर (Praveen Kumar Sport Career)

हाई जपंर प्रवीण कुमार दिव्‍यांग होते हुए भी कई सारी उपलब्धिया हासिल की है जो इस प्रकार है-

Advertisement
  • शुरूआती दौर मे प्रवीण की स्‍कूल की ओर से जिला लेवल पर खेलने का मौका मिला।
  • जिसके बाद उन्‍होने छत्तीसगढ़ में सपन्‍न हुई 22वीं सीबबीएसई क्‍लस्‍टर एवं नेशनल एथलेटिक्‍स में स्‍वर्ण पदक अपने नाम किया।
  • साल 2018 में प्रवीण ने खेलो इडिंया के तहत कई प्रतियोगिताओं में हिस्‍सा लिया व अपना बेहतरीन प्रदर्शन किया।
  • प्रवीण विश्‍व चैपिंयनशिप में भी अपना शानदार प्रदर्शन दिखा चुके है हालांकि उस समय वो मैडल नही जीत सके।

परन्‍तु आज 3 सितम्‍बर को टोक्‍यो पैरालंम्पिक में प्रवीण ने दिव्‍यांग होने के बावजूद रजत पदक जीतकर यह साबित कर दिया है कि अगर दिल में किसी मुकाम को पाने की ललक हो तो कुछ भी नामुमकीन नही।

प्रवीण कुमार ने बनाया हाईजंप में नया रिकॉर्ड

पैरा एथलिट प्रवीण कुमार ने सिल्‍वर मैडल तो जीता ही है इसी के साथ उन्‍होने एक नया रिकॉर्ड भी स्‍थापित कर दिया है। पैरालम्पिक हाई जम्‍प स्‍पर्धा में 2.07 मीटर का जम्‍प लगाकर प्रवीण ने विश्‍व में दूसरा स्‍थान पाया है। जो कि एक नया एशियन रिकॉर्ड है।

You may also like our Facebook Page & join our Telegram Channel for upcoming more updates realted to Sarkari Jobs, Tech & Tips, Money Making Tips & Biographies.

Leave a Comment