Advertisement

देवेन्‍द्र झाझडिया का जीवन परिचय, टोक्‍यो पैरालंपिक मैडल जैवलिन थ्रो | Javelin Thrower Devendra Jhajharia Biography in Hindi & Tokyo Paralympics 2021

Advertisement

देवेन्‍द्र झाझडिया का जीवन परिचय, भाला फेंक खिलाड़ी, देवेन्‍द्र झाझडिया टोक्‍यो पैरालंपिक मेडल, गोल्‍डन बॉय देवेन्‍द्र झाझडिया की बायोग्राफी, Javelin Thrower Devendra Patel Tokyo Paralympics Medal 2021, Bhala Fek Devendra Jhajharia Biography in Hindi (Early Life, Background, Family, Medals, Career, Awards, Coach etc.)

देवेंद्र झझारिया (Devendra Jhajharia) हमारे देश के एक भाला फेंक खिलाड़ी है आप सब को यह जानकर आश्‍यर्च होगा कि इनके सिर्फ एक हाथ है इसके बावजूद इन्‍होंने भाला फेंक (Men’s Javelin Throw) में दो स्‍वर्ण पदक जीतकर देश का नाम रोशन किया है। ऐसे में ये भारत के एकमात्र पैरालम्पिक एथलीट है जिनके नाम पर पुरूष भाला भेंक स्‍पर्धा एफ 46 वर्ग में 2 स्‍वर्ण पदक जीतने का रिकॉर्ड दर्ज है।

Advertisement

देवेन्‍द्र में अपना पहला स्‍वर्ण पदक साल 2004 में एथेंस के समर पैरालम्पिक में जीता था जबकि दूसरा स्‍वर्ण पदक वर्ष 2016 में रियो ओलम्पिक में हासिल किया। इस बार देवेन्‍द्र ने अपना पिछला रिकॉर्ड तोडकर 63.97 मीटर दूर भाला फेकंकर गोल्‍ड मैडल अपने नाम किया।

देवेन्‍द्र झाझरिया ने टोक्‍याे पैरालंपिक के लिए क्‍वालीफाई किया | Devendra Jhajharia Qualify for Tokyo Paralympics 2020

पैरालंपिक में 2 बार देश के लिए Gold Medal जीतने वाले एथलीट देवेन्‍द्र झाझडिया ने 65.71 मीटर दूर भाला फेंककर टोक्‍यो पैरालंपिक 2020 के लिए क्‍वालिफाई कर लिया है। इसके साथ ही देवेन्‍द्र ने अपने रियो ओलपिंक में बनाये गए रिकॉर्ड में भी सुधार किया है जो कि 63.97 मीटर था। ऐसे में सभी लोगो की निगाहें इस दिग्‍गज खिलाड़ी पर टिकी हुई है क्‍योकिं Devendra Jhajharia टोक्‍यो पैरालंपिक में देश के लिए तीसरा गोल्‍ड मैडल जीतने का हुनर रखते है।

देवेन्‍द्र झाझडिया ने रजत पदक अपने नाम किया

टोक्‍यो पैरालंपिक 2021 में राजस्‍थान के देवेन्‍द्र झाझडिया ने सिल्‍वर मैडल अपने नाम कर लिया है हालांकि वो स्‍वर्ण पदक अपने नाम नहीं कर पाये। वही जेवलिन थ्रो में एक ओर भारतीय खिलाड़ी सुन्‍दर सिंह गुर्जर ने भी कास्‍य पदक जीता है। देवेन्‍द्र ने इससे पहले भी सन् 2004 एवं 2016 में भाला फेक स्‍पर्धा में गोल्‍ड मैडल अपने नाम किया है। मगर हाल में आयोजित पैरालंपिक खेल में वो तीसरी बार लगातार स्‍वर्ण पदक पाने वाले खिलाड़ी बनने से चुक गए।

Advertisement

Devendra Jhajharia Biography Brief Details

देवेन्‍द्र झाझडिया का जीवन परिचय, टोक्‍यो पैरालंपिक मैडल जैवलिन थ्रो | Javelin Thrower Devendra Jhajharia Biography in Hindi & Tokyo Paralympics 2021
पूरा नाम (Complete Name)देवेन्‍द्र झाझडिया
जन्‍म स्‍थान (Birth Place)झाझडिया की ढाणी, चुरू (राजस्‍थान)
जन्‍म दिनांक (Date of Birth)10 जून 1981
उम्र (Age)40 वर्ष
पिता का नाम (Father’s Name)राम सिंह झाझडिया
माता का नाम (Mother’s Name)जीवनी देवी
खेल (Game)एथलेटिक्‍स
ईवेट्ंस (Events)एफ 46 जैवलिन
राष्‍ट्रीयता (Nationality)भारतीय
देवेन्‍द्र झाझडिया के कोच का नाम (Coached By)आर डी सिहं
सुनील तवंर – 2015 से
फिटनैस ट्रेनर (Fitness Trainer)लक्ष्‍य बत्रा
अवार्ड से सम्‍मानित (Awards)अर्जून अवार्ड
पद्म श्री अवार्ड

देवेन्‍द्र झाझडिया का जन्‍म एवं प्रारभिंक जीवन

Para Athlete देवेन्‍द्र झाझडिया का जन्‍म 10 जून 1981 को राजस्‍थान के चुरू जिले में एक जाट परिवार में हुआ था। इनके पिता का नाम राम सिंह झाझडिया एवं माता का नाम जीवनी देवी है। जब देवेन्‍द्र मात्र आठ साल के थे तब वो एक हादसे के शिकार हो गए थे। दरअसल पेड़ पर चढ़ते समय उनका बाया हाथ एक बिजली के तार को छू गया जिसके कारण डॉक्‍टरों ने देवेन्‍द्र के परिवार को उनका बाया हाथ काटने की सलाह दी। जिसके चलते देवेन्‍द्र झाझडिया को 8 साल की उम्र में अपना हाथ खोना पड़ा। देवेन्‍द्र झाझडिया को खेलो में रूचि थी हाथ कटने के बाद उनका खेलो के प्रति जोश कम नही हुआ।

देवेन्‍द्र ने स्‍कूल के दिनों से ही भाला फेंक की प्रेक्टिस शुरू कर दी थी। एक हाथ कट जाने की वजह से उन्‍हे तरह-तरह के ताने सुनने को मिलते थे। उन्‍हे खेलो से दूर रहकर पढ़ाई पर फोकस करने को कहा जाता था परन्‍तु उन्‍होने किसी भी बात पर ध्‍यान न देते हुए खुद को मजबूत किया। उसी का परिणाम है कि आज जेवलिन थ्रो देवेन्‍द्र झाझडिया को गोल्‍डन बॉय (Golden Boy) भी कहा जाता है।

देवेन्‍द्र झाझरिया का व्‍यक्तिगत जीवन (Devendra Jhajharia Personal Life)

देवेन्‍द्र झाझडिया का विवाह वर्ष 2007 में मंजू झाझडिया के साथ हुआ जो कि नेशनल लेवल की एक कबड्डी प्‍लेयर है। झाझडिया वर्तमान में भारतीय खेल प्राधिकरण के साथ कार्यरत है। इनके एक 2 वर्ष का बेटा काव्‍यान एवं 6 वर्ष की एक बेटी है जिसका नाम जिया है।

Advertisement

देवेन्‍द्र झाझडिया को प्राप्‍त पुरस्‍कार (Devendra Jhajharia Awards List)

देवेन्‍द्र झाझरिया को साल 2012 में पद्म श्री पुरस्‍कार तथा वर्ष 2017 में खेल रत्‍न पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया गया। बताते चले कि झाझडिया ये दोनो पुरस्‍कार पाने वाले पहले Para-Athlete है।

क्र सवर्ष पुरस्‍कार का नाम
12004अर्जुन अवार्ड
22012पद्म श्री अवार्ड
32014FICCI पैरा स्‍पॉर्टपर्सन ऑफ द ईयर अवार्ड
42017खेल रत्‍न अवार्ड

यह भी पढे़- भाविना हसमुखभाई पटेल का जीवन परिचय

देवेन्‍द्र झाझडिया का करियर (Devendra Jhajharia Career)

  • वर्ष 2004 में देवेन्‍द्र झाझडिया ने एथेन्‍स में समर पैरालंपिक में भारत को रिप्रजेण्‍ट किया तथा अपना पुराना रिकॉर्ड तोड़कर 62.15 मीटर का नया रिकार्ड स्‍थापित कर गोल्‍ड मेडल अपने नाम किया।
  • इसके बाद सन् 2013 में देवेन्‍द्र ने फ्रांस के लियोन में IPC Athletics World Championships में देश का प्रतिनिधित्‍व किया तथा जेवलिन एफ-46 वर्ग में फिर से स्‍वर्ण पदक हासिल कर इतिहास रचा।
  • साऊथ कोरिया के ईचिंओन में 2014 में आयोजित हाेने वाले Asian Para Games में F46 भाला फेकं में सिल्‍वर मेडल प्राप्‍त किया।
  • सन् 2015 में देवेन्‍द्र ने कतर, दोहा में सपंन्‍न IPC Athletics World Championships में दूसरे स्‍थान पर रहते हुए एक ओर सिल्‍वर मेडल जीता।
  • सन् 2016 में फिर से देवेन्‍द्र ने ब्राजील के रियो-डि-जेनेरियो में आयोजित ग्रीष्‍मकालीन पैरालंपिक में एफ46 कैटेगरी में नया रिकॉर्ड रचा। इस बार इन्‍होने अपने 2004 एथेंस रिकॉर्ड को क्रॉस कर 63.97 मीटर दूर भाला फेकंकर नया इतिहास बनाया तथा स्‍वर्ण पदक देश की झोली में डाला।

Javelin Thrower Devendra Jhajharia: FAQs

Q: देवेन्‍द्र झाझडिया कौनसा खेल खेलते है?

Ans: भाला फेंक

Q: देवेन्‍द्र झाझडिया का जन्‍म कहा पर हुआ?

Ans: झाझडिया की ढाणी, चुरू, राजस्‍थान

Q: देवेन्‍द्र झाझडिया के कोच का नाम क्‍या है?

Ans: सुनील तंवर

Advertisement

Q: टोक्‍याे पैरालंपिक 2020 में देवेन्‍द्र का मैच किस तारीख को है?

Ans: 30 अगस्‍त को

Q: देवेन्‍द्र झाझडिया को कौन-कौन से अवार्ड प्राप्‍त है?

Ans: अर्जुन पुरस्‍कार, खेल रत्‍न पुरस्‍कार, पद्म श्री पुरस्‍कार एवं फिक्‍की पैरा स्‍पॉर्टपर्सन ऑफ द ईयर अवार्ड

You may also like our Facebook Page & join our Telegram Channel for upcoming more updates realted to Sarkari Jobs, Tech & Tips, Money Making Tips & Biographies.

2 thoughts on “देवेन्‍द्र झाझडिया का जीवन परिचय, टोक्‍यो पैरालंपिक मैडल जैवलिन थ्रो | Javelin Thrower Devendra Jhajharia Biography in Hindi & Tokyo Paralympics 2021”

Leave a Comment