FASTag क्‍या है, कैसे रिचार्ज करें, काम कैसे करता है इसकी सुविधा जानिए पूरी जानकारी

What is FASTas:- फास्‍टैग एक इलेक्‍ट्रॉनिक टॉल कलेक्‍शन सिस्‍टम है जो सभी भारतीय राष्‍ट्री राजमार्ग पर लागू होता है। यह सिस्‍टम टॉल बूथ्‍स पर वाहन द्वारा कटौती के लिए अद्वितीय रखता है और इस ऑटोमेटेड रूप से वसूल किया जाता है। इसका उपयोग करने के लिए व्‍यक्ति‍ को अपने वाहन के लिए एक फास्‍टैग मिलता है जिसे वह अपने वाहन की विंडशील्‍ड पर लगा सकता है। इस‍के बाद जब वाहन टॉल बूथ के पास आता है तो RFID (रेडियों फ्रीक्‍केंसी आइटेंटिफिकेशन) तकनीक का उपयोग करके FASTag स्‍वचालित रूप से कटौती को प्रदर्शित कर लेता है।

इस सिस्‍टम का उपयोग टॉल प्‍लाजा पर लंबी कतारों को कम करने और टॉल ट्रांजेक्‍शन को सुरक्षित बनाए रखने के लिए किया जाता है। यह व्‍यापक रूप से भारतीय राष्‍ट्रीय राजमार्गो पर लागू हो रहा है। और वाहन चालकों को आसानी से टॉल कटौती करने का आवसर प्रदान कर रहा है आपको फास्‍टैग के बारें में नहीं पता है जैसे- क्‍या है फास्‍टैग, रिचार्ज कैसे करें, फास्‍टैग काम कैसे करता है आदि जानकारी पढ़ना चाहते है तो लेख के अंत तक बने रहिए।

FASTag

फास्‍टैग क्‍या है इन हिंदी FASTag Kya Hai in Hindi

FASTag एक इलेक्‍ट्रॉनिक चिप है जिसे वाहनों के सामने वाले शीशे पर लगाया जाता है इस इलेक्‍ट्रानिक चिप RFID (रेडियों फ्रीक्वेंसी आइटेंटिफिकेशन) होता है जो टोल प्‍लाजा के सेंसर से ऑटोमैटिक कनेक्‍ट हो जाता है। यह जो सिस्‍टम होता है वह टॉल बूथ यानी टोल प्‍लाजा पर होकता है जो सभी गाडियों में लगा फास्‍टैग से तकनीक उपयाेग से स्‍वचालित रूप से कटौती कर लेता है। यह व्‍यापक रूप से सभी भारतीय राष्‍ट्रीय राजमार्गो पर लागू रहता है इससे वाहन चालकों को आसानी से टॉल कटौती करने का अवसर मिलता है।

फास्‍टैग का फायदा यह है की टोल प्‍लाजा पर गाडियों की भीड़ नहीं होती है इस चिप से तुरंत टोल कट जाता है और अगली गांड़ी का नंबर आता है। इस तरह से इस फास्‍टैग वाल सिस्‍टम से टॉल बूथ पर कभी भी ट्रफ्रिक नहीं होता है। आपने अभी तक अपनी गाड़ी पर FASTag नहीं लगाया है तो जल्‍दी से यह चिप लगाए क्‍यों आज के समय में छोटे राजमार्ग हो या फिर इंटरनेशन राजमार्ग सभी के टोल प्‍लाजा पर RFID वाली तकनीक का उपयोग किया जाता है।

फास्‍टैग शुरू करने का उद्देश्‍य FASTag क्‍यों शुरू किया है बताइए उसका उद्देश्‍य

FASTag एक इलेक्‍ट्रॉनिक टोल पेमेंट सिस्‍टम है जो भारत में सड़क टोल बूथों पर तेजी से टोल भुगतान को सुनिश्चित करने के लिए शुरू किया गया है। इसका मुख्‍य उद्देश्‍य है ट्रैफिक को अधिक सुरक्षित और दक्ष बनाना, टोल बूथों पर इंजमेन समय कम करना, और कारोबारियों को बहुत्रिकरण को बढ़ावा देना है। फास्‍टैग का उपयोग वाहन चालकों को बिना नकद पैसे देने की सुविधा प्रदान करता है और इससे जुड़े हुए बैंक खातें से सीधे टोल भुगतान किया जाता है। जिससे पेपरलेस और स्‍मूथ होता है आज के समय में यह सस्टिम राष्‍ट्रीय व राज्‍य राजमार्गो पर लागू हो चुका है।

भारत सरकार के इस डिजिटल इंडिया और डिजिटल पेमेंट के क्षेत्र में कदम उठाने वाला बहुत अच्‍छा आईडिया है। अब फास्‍टैग का उपयोग विभिन्‍न ऑनलाइन प्‍लेटफॉर्म्‍स और बैंकों के माध्‍यम से किया जाता सकता है। और यह वाहन चालकों को बिना रूके टोल बूथ पार करने की सुविधा प्रदान करता है। अब देश में सड़क पर टोल का इलेक्‍ट्रॉनिक तोर पर संग्रह तेज करने के लिए जल्‍दी ही पेट्रोल पंप पर FASTag उपलब्‍ध होगा।

FASTag Recharge Online फास्‍टैग रिचार्ज कैसे करें

फास्‍टैग रिचार्ज करने के लिए निम्रलिखित कदमों का पालना करना है जो की नीचे दिए हुए है

  • ऑनलाइन प्‍लेटफॉर्म का चयन करें:- आप उस बैंक या वित्तीय संस्‍था की वेबसाइट या मोबाइल एप का उपयोग करके FASTag को ऑनलाइन रिचार्ज कर सकते है। जिससे आपने फास्‍टैग प्राप्‍त किया है वहीं पर आपको फास्‍टैग में रिचार्ज करने की सुविधा व सेवा मिल जाएगी।
  • अपने खातें को लॉग इन करें:- ऑनलाइन प्‍लेटफॉर्म तक पहुँचने के बाद आपको अपने खातें को लॉगइन करना है यदि आपके पास खाता नहीं है तो पहले आपको अपना अकाउंट बनाना है।
  • फास्‍टैग सेक्‍शन खोजें:- एक बार लॉग इन होने के बाद फास्‍टैग सेवाओं से संबंधित खंड की ओर जाए, यहा आपको FASTag Recharge का ऑप्‍शन दिखाई पड़ेगा। उस पर क्ल्कि करना है
  • फास्‍टैग विवरण दर्ज करें:- फास्‍टैग रिचार्ज वाले ऑप्‍शन पर क्ल्कि करने के बाद आपके कुछ डिटेल मांगी जाएगी जैसे- फास्‍टैग नंबर, बैंक डिटेल आदि उसे भरनी है। जिसके बाद आपको नीचे रिचार्ज राशि का चयन करना है।
  • भुगतान विधि का चयन करें:- अब आप आपकी पंसद से कोई भी रशि का भुगतान कर सकते है सामान्‍यत: क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग, यूपीआई या अन्‍य डिजिटल के माध्‍यम से भुगतान कर सकते है। इस प्रकार आप सभी घर बैठें ही ऑनलाइन तरीके से FASTag Recharge कर सकते है।

फास्‍टैग कैसे बनाया जाता है फास्‍टैग कहा से खरीदें

FASTag एक इलेक्‍ट्रॉनिक टॉल कलेक्‍शन सिस्‍टम है जो भारत के सभी राष्‍ट्री राजमार्गो पर लागू है। यह टॉल बूथ पर वाहन के फास्‍टैग स्‍वतंत्रता से टॉल भुगतान करने की सबसे आसान व अच्‍छी सुविधा प्रदान करता है। अब सवाल उठता है की आखिर फास्‍टैग कैसे बनेगा व इसे बनाने के लिए कैसे व कहा पर आवेदन करें।

FASTag Online Apply:-

  • फास्‍टैग बनवाने के लिए आपको विभिन्‍न बैंकों या फिर सीधे FASTag इस्‍सुइंग एजेंसीज की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है।
  • जहा आपको फास्‍टैग से जुड़ी सभी डिटेल मिल जाएगी यहा आपको फास्‍टैग के लिए आवेदन करें का ऑप्‍शन दिखाई देगा।
  • उस पर क्ल्कि करना है और मांगी हुई सभी डिटेल सही से भरनी है जैसे आरसी (Registration Certificate) ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोरर्ट साइज का फोटो, मोबाइल नंबर आदि।
  • सभी जानकारी सहीं से भरने के बाद नीचे सबमिट कर देना है

बैंक के शाखा में जाकर आवेदन करें:-

  • आप अपने किसी नजदीकी बैंक की शाखा में जाकर भी फास्‍टैग की लिए आवेदन कर सकते है।
  • आपको यहा से फास्‍टैग का आवेदन फॉर्म लेना है मांगी हुई जानकारी सही-सही भरनी है।
  • उसके बाद आवश्‍यक दस्‍तावेजों की फोटो कॉफी लगाकर उसी बैंक में जमा करा देना है।
  • उसके बाद आपको बैंक द्वारा निर्धारित फसी भुगतान करें और FAStag कार्ड प्राप्‍त करें।

फास्‍टैग बनवाने के लिए जरूरी दस्‍तावेज

  • आधार कार्ड
  • पेन कार्ड
  • राशन कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • गाड़ी के पंजीकरण प्रमाण पत्र (RC)
  • वाहन मालिक का पासपोर्ट साइज का फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक डिटेल आदि

महत्‍वपूर्ण लिंक

होम पेज यहा क्ल्कि करें
ऑफिशियल वेबसाइट यहा क्ल्कि करें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top