Advertisement

World Patient Safety Day 2021 | विश्‍व रोगी सुरक्षा दिवस की जानकारी हिंदी में यहा से पढ़े

Advertisement

दोस्‍तो विश्‍व के सभी रोगीयो को अपनी सुरक्षा के बारे में जागरूक करना या बढ़ावा देने के लिए प्रत्‍येक वर्ष 17 सितम्‍बर को विश्‍व रोगी दिवस मनाया जाता है। इस बार यह दिवस भी 17 सितम्‍बर 2021 यानी शनिवार के दिन है। इस दिन सभी रोगीयो (पेशेंट) को स्‍वयं की सुरक्षा का विश्‍व स्‍तर पर स्‍वास्‍थ्‍य की चिंता है। स्‍वास्‍थ्‍य की देखबाल के लिए बहुत कुछ करना होता है। तो चलिए जानते है विश्‍व रोगी दिवस (World Patient Safety Day) के बारे में तो पोस्‍ट के अन्‍त तक बने रहे।

विश्‍व रोगी दिवस 2021 (World Patient Safety Day in Hindi)

World Patient Safety Day
World Patient Safety Day

इस बार विश्‍व रोगी दिवस की थीम के लिए डब्‍ल्‍यूएचओ (WHO) विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने शिशु जन्‍म पर सुरक्षा की और ज्‍यादा ध्‍यान दिया है। आपकी जानकारी के लिए बता दे की विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन स्‍वास्‍थ्‍य के लिए संयुक्‍त राष्‍ट्र की सबसे बड़ी एपेंसी है। जो सभी देशो के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालयों के साथ काम करती है। स्‍वास्‍थ्‍य के लिए जो नियम बनाती है वह सभी देशो को करना होता है।

Advertisement

वही बात करे भारत की तो इसका स्‍वास्‍थ्‍य संगठन का कार्यालय का मुख्‍यालय नई दिल्‍ली में है जो रोगीयो के निए सुरक्षा की जिम्‍दारी रखता है। इस वर्ष ज्‍यादा जोर सुरक्षित मातृत्‍व एवं शिशु देखभाल पर दिया है। क्‍यो‍कि‍ अगर माता को कोई बीमारी नहीं होगी तो होने वाले बच्‍चे के कम चाइंस रहेगे। और शिशु की शुरूआत से अच्‍छी देखभार और समय पर टीका लगाऐ जाऐगे तो उसके बड़े होने पर बीमारी से बचा रहेगा।

ताकि आगे आने वाली जनरेशन में रोगीयो की संख्‍या न बढ़े। डॉ. सरिता ने राज्‍य के कार्यक्रम का पदाधिकारी ने मावृ एवं शिशु स्‍वास्‍थ्‍य ने पत्र जारी किया है। की सभी सिविल सर्जन को 17 सितम्‍बर 2021 विश्‍व रोगी सुरक्षा दिवस (World Patient Safety Day) पर जिला में पोस्‍ट प्रतियोगिता का आयोजन किया जाए। तथा वही सिविल सर्जन डॉ. मीना कुमारी ने कहा की किसी भी स्‍वास्‍थ्‍य को सबसे पहली जिम्‍मेदारी रोगियो के लिए सुरक्षा प्रदान करना होता है।

रोगियो के साथ-साथ सभी चिकित्‍सा कर्मियो को स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर अनुशासित होना होता है। ताक‍ि पेसेंटो के लिए सुरक्षा बनी रहे। जैसे की कोई कोविड का पेसेट है तो उस उ्््र करे तथा उसे अन्‍य सभी लोगो से दूर रखे जब तक वह बिल्‍कुल ठीक नही हो जाऐ। क्‍योकि वह अन्‍य लोगो से मिलेगा तो उसके सभी लक्षण दूसरे के अन्‍दर जाऐगी और वह भी बीमार पड़ जाएगा। ऐसे में रोगियो की संख्‍या बढ़ती जाती है। और हम विश्‍व रोगी सुरक्षा को नियत्रंण नही कर पाते है।

Advertisement

विश्‍व रोगी दिवस पर गतिविधियो का आयोजन (World Patient Safety Day ka Aayojan)

World Patient Safety Day
World Patient Safety Day
  • वर्ल्‍ड पेशेंट सेफटी डे (विश्‍व रोगी दिवस) World Patient Safety Day पर रोक करने के लिए देश के सभी राज्‍यो में जिला स्‍तर पर रोगीयो पर रोक लगाने के लिए समिति का गठन किया जाऐगा। जिसमें जिला स्‍तर के कोचिंग टीम के सदस्‍य होगे।
  • सभी राज्‍यो में जिला स्‍तर पर एक सम्‍मेलन किया जाएगा जिसमें प्रखंड स्‍तरीय अस्‍पताल के साथ विश्‍व रोगी स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्ष दिवस स्‍वच्‍छता का वर्कशॉप का आयोजन किया जाएगा।
  • सभी जिलो में लोगो को अपनी सुरक्षा के लिए गुणवत्ता संबधी कार्यो का प्रदर्शन कर पोस्‍ट प्रतियोगिता की जाएगी।
  • इस दिन गॉवं-गॉंव गली-गली विश्‍व रोगी सुरक्षा दिवस का प्रचार करना होता तथा लोगो को उसके प्रति जागरूक करना होता है।
  • हमारे देश में शहरी लोग आज स्‍वयं को इसके प्रति जागरूक कर चुके है किन्‍तु गॉंवो में बहुत अधिक मात्रा में पेशेंट आते रहते है।

नोट:- इस बार हमारे देश विश्‍व रोगी सुरक्षा दिवस की थीम ”सुरक्षित मातृत्‍व एवं नवजात शिशुओ की देखभाल करना है।

विश्‍व रोगी सुरक्षा दिवस का उदेश्‍य (World Patient Safety Day ka Udeshya)

  • सबसे पहले पेशेंट की सही पहचान करे की वह कहा से है और किस बीमारी से ग्रसित है । इसके बाद उसे इस बीमारी के लिए जारूक करे।
  • उच्‍च जाेखिम दवाओ का समझदारी का प्रयोग करे। यानी पेशेंट का अच्‍छे से समझाऐ की किस प्रकार उपचार के लिए दवाईया ले।
  • देश के सभी चिकित्‍सालयो में साफ-सफाई का खास ध्‍यान रखे क्‍योकि गंधगी से भी बीमारीया फैलती है।
  • एसएनसीयू में नवजात शिशु की अच्‍दी देखबाल करे ताकि वह स्‍वस्‍थ रहे।
  • खास तौर पर प्रसव के समय माता व नवजात शिशु की सुरक्षा पर ज्‍यादा जाेर डाले। और उन्‍हे जागरूक करे।
  • गर्भवती स्‍त्रीयो को रेडिएशन से होने वाले नुकसानो के बारे में लोगो को जागरूक करे। ये सभी जिम्‍मेदारीया चिकित्‍सा कर्मियो की है।
  • विश्‍व रोगी सुरक्षा दिवस पर भारत ने देश के सभी युवाओ को अपनी सुरक्षा के लिए मुह पर मास्‍क पहने रखने के लिए प्रेरित किया है ताकी कोवडि जैसी महामारी से बचे।
  • साथ ही पूरे देश वासियो को कोविड-19 महामारी का टीका लगाने के लिए प्ररित किया है। क्‍योकि हमारे देश में अभी भी ऐसे युवा है जिन्‍होने कोविड वैक्सिन नही लगवाई।
World Patient Safety Day

दोस्‍तो आज के इस लेख में हमने आपको विश्‍व सुरक्षा दिवस (World Patient Safety Day) के बारे में बताया है। आप सभी को हमारा यह लेख पसंद आया है तो लाईक करे व अपने मिलने वाले के पास शेयर करे। और यदि आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्‍न है तो कमंट करके जरूर पूछे। धन्‍यवाद

प्रश्‍न:- विश्‍व रोगी दिवस कब मनाया जाता है।

Advertisement

उत्तर:- विश्‍व रोगी दिवस प्रतिवर्ष 17 सितम्‍बर को मनाया जाता है।

प्रश्‍न:- विश्‍व रोगी दिवस 2021 की थीम क्‍या है।

उत्तर:- रोगी दिवस की थीम्‍ मातृत्‍व स शिशु सुरक्षा काे बढ़ावा देना।

प्रश्‍न:- विश्‍व रोगी दिवस किस वार काे है।

उत्तर:- इस बार विश्‍व रोगी दिवस शुक्रवार के दिन है।

1 thought on “World Patient Safety Day 2021 | विश्‍व रोगी सुरक्षा दिवस की जानकारी हिंदी में यहा से पढ़े”

Leave a Comment